आर्यिका श्री १०५ विलक्षणामति माता जी

पूर्व का नाम :                         बाल ब्रह्मचारिणी अर्चना जी  

पिता का नाम :                      श्री शीतल प्रसाद जी जैन  

माता का नाम :                      श्रीमती कमला बाई जी  जैन  

भाई – बहिन के नाम              (१) श्री सतेन्द्र(२) श्री सुदर्शन (३) श्री राजेश (४) ब्र.सुषमा दीदी

जन्म के क्रम से :                   (५) सुभाषिणी (६) आपका क्रम (७) ब्र. श्री राजेश जी (वर्तमान मे एलक श्री संपूर्णसागर जी)     

जन्म/ दिनांक/तिथि             ०३-०७-१९६४ शुक्रवार, आषाढ़ स्शुक्ल ८ वी.सं. २०२१ टडा जिला- सागर (म.प्र.)(बाद मे सागर निवास)                       

शिक्षा (लौकिक/धार्मिक) :      बी.ए. (द्वितीय वर्ष)   

ब्रह्मचर्य व्रत दिनांक             १९-१०-१९८२, श्री दिग. जैन सिद्धक्षेत्र नैनागिरी जी जिला- छतरपुर (म.प्र.)                        

प्रतिमा (कब/कहाँ):              नौ प्रतिमा १९८९ (कुण्डलपुर दमोह)                

आर्यिका दीक्षा दिनांक          २०-०२-१९८५ फाल्गुन कृष्णा १० मंगलवार, वी.सं. २०४६,     

दिन/तिथि/स्थान :              नरसिंहपुर (म.प्र.) पंचकल्याणक के दौरान    

 दीक्षा गुरु :                           आचार्य श्री १०८ विद्यासागर जी महाराज

वर्तमान मे संघस्थ :              आर्यिका श्री १०५ दृढ़मति माता जी   

 विशेष :                              आपकी सीधी आर्यिका दीक्षा हुई| आपके गृहस्थ जीवन के भाई एलक सशरी संपूर्ण सागर जी है जो आपके ही गुरु से दीक्षित है |